Posted in Bhajan Video Khatu shyam baba, Hanuman Ji, Hanuman Ji Ko Chola, Hanuman Ji Ko Chola Chadhane, Hanuman Ji Ko Chola Chadhane Ki Vidhi, Hanuman Ji Ko Chola Vidhi

Hanuman Ji Ko Chola Chadhane Ki Vidhi :

हनुमान जी चौला चढ़ाने की विधि /Hanuman Ji Ko Chola Chadhane Ki Vidhi :

  1. सबसे पहले हनुमान जी को चौला चढ़ाये जाने वाले सामान को इकट्ठा कर लें जैसे सिन्दूर, चांदी का वर्क, जनेऊ, 2 लोंग, 2 इलायची, 2 जायफल और गाय का घी आदि। 
  2. सारा सामान इकट्ठा करके मंगलवार की सुबह स्नान आदि से निवृत होकर हनुमान जी के ऐसे मंदिर पहुँच जाये जहाँ हनुमान जी की प्रतिमा को सिन्दूर का चौला चढ़ाया जाता हो।
  3. सर्वप्रथम हनुमान जी की प्रतिमा के समक्ष पहुँचकर हाथ जोड़कर हनुमान जी को प्रणाम करें और हनुमान जी की प्रतिमा से जनेऊ और लंगोट आदि वस्त्र को सावधानी से उतारे ले।
  4. इसके बाद एक कटोरी में सिन्दूर डाले उसमें थोडा गाय का घी (कुछ भक्त चमेली का तेल भी प्रयोग करते है, जोकि पूरी तरह से मान्य है) मिलाकर लेप तैयार कर ले।
  5. एक कपडे से हनुमान जी प्रतिमा को साफ़ कर ले।
  6. अब दायें (Right Hand) हाथ की बीच की दोनों उँगलियों से सर्वप्रथम हनुमान जी के चरणों में सिन्दूर लगाये और “जय श्री राम” मन्त्र का मानसिक रूप से जप करते जाये। हनुमान जी के चरणों से शुरू कर हनुमान जी के सिर तक (नीचे से ऊपर की और) सिन्दूर लगाये।
  7. हनुमान जी की प्रतिमा को अब जनेऊ पहनाएँ। (जनेऊ पहनते हुए ध्यान रखें कि जनेऊ को बाएं से दाई तरफ पहनाएँ)
  8. अब हनुमान जी को चांदी का वर्क चढ़ाये और चांदी का वर्क हनुमान जी के दोनों पैरों पर, नाभि स्थान के नीचे, गले पर, मस्तक पर, गदा पर और हाथ में लिए पर्वत पर लगाये। 
  9. अब हनुमान जी की प्रतिमा के समक्ष घी का दीपक लगाये व धूपबत्ती लगाये और हाथ में 2 लोंग, 2 इलायची और 2 जायफल लेकर हनुमान जी के चरणों में रख दे व हाथ जोड़कर मन ही मन हनुमान जी से अपनी मनोवाँछित अभिलाषा के लिए प्रार्थना करें।
  10. इस प्रकार हनुमान जी को चौला चढ़ाने का कार्य सम्पूर्ण हो जाता है। अंत में मस्तक टिका कर हनुमान जी से त्रुटि के लिए माफ़ी माँग ले और श्रद्धा से दान पात्र में कुछ दक्षिणा चढ़ा दें।


Hanuman Ji Ko Chola Chadhane Ki Vidhi सावधानियाँ
यदि मंगलवार के दिन आप यह प्रयोग करते है तो गाय के घी में सिन्दूर मिलाकर हनुमान जी को चौला चढाएं और यदि शनिवार के दिन आप यह प्रयोग करते है तो चमेली के तेल में सिन्दूर मिलाकर चौला चढ़ाएं। हनुमान जी को चौला केवल पुरुष ही चढ़ा सकते है, महिलाओं के लिए ऐसा करना वर्जित माना गया है। यदि फिर भी कोई विवाहित महिला हनुमान जी को चौला अर्पित करना चाहती है तो वह अपने हाथों से सामग्री की व्यवस्था कर अपने पति के हाथों से हनुमान जी को चौला (Hanuman Ji Ko Chola Chadhane Ki Vidhi) अर्पित कर सकती है।

Author:

I am freelancer Web Designer and Internet Marketing Expert (SEO). http://www.428545.in | |

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s