Posted in Khatu Shyam Bhajan Lyrics Hindi, Shyam Bhajan Hindi, Shyam Bhajan Lyrics Hindi, Shyam Bhajan Lyrics in Hindi, Uncategorized

Meri Lagi Shyam Sang Preet Lyrics | मेरी लगी श्याम संग प्रीत | Shyam Bhajan Lyrics Hindi

मेरी लगी श्याम संग प्रीत ये दुनिया क्या जाने भजन लिरिक्स

 

Meri Lagi Shyam Sang Preet Lyrics | मेरी लगी श्याम संग प्रीत | Shyam Bhajan 2020

मेरी लगी श्याम संग प्रीत,
ये दुनिया क्या जाने,
मुझे मिल गया मन का मीत,
ये दुनिया क्या जाने,
क्या जाने कोई क्या जाने,
क्या जाने कोई क्या जाने,
मेरी लगी श्याम संग प्रित,
ये दुनिया क्या जाने।।
 
 
छवि लखि मैंने श्याम की जब से,
भई बावरी मैं तो तब से,
बाँधी प्रेम की डोर मोहन से,
नाता तोड़ा मैंने जग से,
ये कैसी निगोड़ी प्रीत,
ये दुनिया क्या जाने,
मेरी लगी श्याम संग प्रित,
ये दुनिया क्या जाने।।
 
 
मोहन की सुन्दर सूरतिया,
मन में बस गई मोहनी मूरतिया,
जब से ओढ़ी श्याम चुनरिया,
लोग कहे मैं भई बावरियां,
मैंने छोड़ी जग की रीत,
ये दुनिया क्या जाने,
मेरी लगी श्याम संग प्रित,
ये दुनिया क्या जाने।।
 
 
हर दम अब तो रहूँ मस्तानी,
रूप राशि अंग अंग समानी,
हेरत हेरत रहूँ दीवानी,
मैं तो गाऊँ ख़ुशी के गीत,
ये दुनिया क्या जाने,
मेरी लगी श्याम संग प्रित,
ये दुनिया क्या जाने।।
 
 
मोहन ने ऐसी बंसी बजाई,
गोप गोपियाँ दौड़ी आई,
सब ने अपनी सुध बिसरायी,
लोक लाज कुछ काम न आई,
फिर बाज उठा संगीत,
ये दुनिया क्या जाने,
मेरी लगी श्याम संग प्रित,
ये दुनिया क्या जाने।।
 
 
मेरी लगी श्याम संग प्रीत,
ये दुनिया क्या जाने,
मुझे मिल गया मन का मीत,
ये दुनिया क्या जाने,
क्या जाने कोई क्या जाने,
क्या जाने कोई क्या जाने,
मेरी लगी श्याम संग प्रित,
ये दुनिया क्या जाने।।
Posted in मेरा आपकी कृपा से, सब काम हो रहा है Bhajan Lyrics, Mera Aapki Kripa Se Shyam Bhajan Lyrics, SHYAM BHAJAN HINDI LYRICS, Shyam Bhajan Lyrics in Hindi, Uncategorized

SHYAM BHAJAN HINDI LYRICS Mera Aapki Kripa Se Shyam Bhajan Lyrics in Hindi मेरा आपकी कृपा से, सब काम हो रहा है Bhajan Lyrics

Mera Aapki Kripa Se Shyam Bhajan Lyrics in Hindi मेरा आपकी कृपा से, सब काम हो रहा है Bhajan Lyrics

मेरा आपकी कृपा से, सब काम हो रहा है।
करते हो तुम कन्हैया, मेरा नाम हो रहा है॥
 
पतवार के बिना ही, मेरी नाव चल रही है।
हैरान है ज़माना, मंजिल भी मिल रही है।
करता नहीं मैं कुछ भी, सब काम हो रहा है॥
 
तुम साथ हो जो मेरे, किस चीज की कमी है।
किसी और चीज की, अब दरकार ही नहीं है।
तेरे साथ से गुलाम, अब गुलफाम हो रहा है॥
 
मैं तो नहीं हूँ काबिल, तेरा पार कैसे पाऊं।
टूटी हुयी वाणी से, गुणगान कैसे गाऊं।
तेरी प्रेरणा से ही, सब ये कमाल हो रहा हैं॥
 
मुझे हर कदम कदम पर, तूने दिया सहारा।
मेरी ज़िन्दगी बदल दी, तूने करके एक इशारा।
एहसान पे तेरा ये, एहसान हो रहा है॥
 
तूफ़ान आंधियों में, तूने ही मुझको थामा।
तुम कृष्ण बन के आए, मैं जब बना सुदामा।
तेरे करम से अब ये, सरेआम हो रहा है॥

Mera Aapki Kripa Se,Sab Kaam Ho Raha Hai